MP Modi ने कृषि कानून लिया वापिस, फैसले की बताई वजह

PM Modi ने कृषि कानून लिया वापिस, फैसले की बताई वजह

MP Modi ने कृषि कानून लिया वापिस, फैसले की बताई वजह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विवादों में घिरे तीन किसी कानून को वापस लिए जाने की घोषणा की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपना फैसला सुनाते हुए यह बताया है, कि इस कानून के लिए संसद के आगामी सत्र में विधेयक लाया जाएगा।

कृषि कानून के लिए किसान कर रहे थे आंदोलन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा निकाले गए तीनों कृषि कानून के लिए किसानों द्वारा आंदोलन किया जा रहा था। शुक्रवार को गुरु नानक जी के प्रकाश पर्व के अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में इस आशय की घोषणा की। उन्होंने अपने भाषण के दौरान यह कहा कि 5 दशक के अपने सार्वजनिक जीवन में मैंने किसानों की मुश्किलों और चुनौतियां को बहुत ही करीब से अनुभव किया है।

PM Modi ने कहीं यह बात

पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान यह कहा कि हमारी सरकार किसानों की भलाई के लिए यह तीनों कृषि कानून लाई थी।उन्होंने बताया कि इसके लिए लंबे समय से मांग चल रही थी। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा कि हालांकि कुछ किसान जिनकी संख्या कम है उन्होंने इसका विरोध भी किया है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण के दौरान यह कहा कि संभवत यह हमारी तपस्या की ही कमी है कि हम इन तीनों कानून के बारे में किसानों को समझा नहीं सके। पीएम मोदी ने यह भी कहा है कि इन तीनों कानूनों को रद्द करने की प्रक्रिया संसद के इसी सत्र में की जाएगी।

30 तारीख से होगा संसद सत्र शुरू

संसद का सत्र 29 नवंबर से शुरू हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी किसानों से यह अपील की है कि इस कानून को रद्द कर दिया जाएगा एवं सभी किसान अपने अपने घर चले जाएं।प्रधानमंत्री ने कहा कि एमएसपी पर चुनाव के लिए समिति में केंद्र सरकार के प्रतिनिधियों के अलावा राज्य सरकारों, किसान संगठनों, कृषि विशेषज्ञ तथा कृषि अर्थशास्त्री रखे जाएंगे। प्रधानमंत्री ने बोला कि मैं किसानों के लिए और ग्रामीण दोनों के लिए पहले से अधिक मेहनत के साथ काम करता रहूंगा।

PM Modi के संबोधन के प्रमुख अंश

  • आज मैं आपको, पूरे देश को, ये बताने आया हूं कि हमने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का निर्णय लिया है।
  • देश हित को ध्यान में रखते हुए वापिस ले रहे हैं कृषि कानून
  • आंदोलन कर रहे किसानों से अपील- घर लौटें और जुट जाएं खेती में
  • हमारी सरकार, किसानों के कल्याण के लिए, खासकर छोटे किसानों के कल्याण के लिए
  • हमारी सरकार, किसानों के कल्याण के लिए, खासकर छोटे किसानों के कल्याण के लिए।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.